एचडी फ़ुटबॉल लाइव है

एचडी फ़ुटबॉल लाइव है

time:2021-10-27 05:24:34 पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस 5-7% कर्मचारियों की छंटनी करेगी Views:4591

365 ऑनलाइन खेल एचडी फ़ुटबॉल लाइव है 10cric प्रचार,casumo अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न,लीवेगैस जिम्मेदार गेमिंग,lovebet कैसीनो,lovebet एनएफएल सप्ताह 8,lovebet ज़हा,जब आप खाता खोलेंगे तो किसी भी सट्टेबाजी साइट को दे दिया जाएगा,बैकरेट सूत्र,बैकारेट अल्टीमो,बेटिंग किंग,कैसीनो औ हार्वे,कैसीनो असीमित,क्लासिक रम्मी रेफरल कोड,क्रिकेट का हिंदी,ई स्पोर्ट्स लीग,यूरोपीय बाधाओं स्काउटिंग नेटवर्क,फुटबॉल नंबर,उत्पत्ति कैसीनो मालिक,फुटबॉल मैच का हाफ टाइम कितना लंबा होता है,आईपीएल लाइव स्कोर,खेल का खजाना,लाइव लाठी श्विज़,लिवरपूल रम्मी राउंड,लॉटरी कल परिणाम,एनबीए सट्टेबाजी,ऑनलाइन कैसीनो vklad paysafecard,ऑनलाइन पोकर जॉइनिंग बोनस,परिमच गूगल प्ले,पोकर मैं मुश्किल से उसके मनोविज्ञान को जानता हूँ,यूरोपीय फुटबॉल क्लबों की रैंकिंग,6 . से विभाज्यता का नियम,रम्मी वेरिएंट हिंदी,स्लॉट मशीन जैकपॉट वीडियो,स्पोर्ट्स 52 वियर ब्रांड,स्पोर्ट्सबुक इंडियाना,टेक्सास होएलडीएम लैपोक,दुनिया की शीर्ष दस खाद्य कंपनियां,आभासी क्रिकेट सट्टेबाजी क्या है,xfinity लाइव कैसीनो फिली,उड़ेंगे लॉटरी लागी,क्रिकेट 90 गेम,गोवा खुदा,डिलीट delete,फुटबॉल सट्टेबाजी वेबसाइट,बेटा लगाना,लॉटरी धन केसरी,हैप्पी बंदर वर्ष .पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस 5-7% कर्मचारियों की छंटनी करेगी

कंपनी के कारोबार में काफी कमी आई है. खर्च घटाने के लिए उसने यह रास्‍ता अपनाया है.
कोलकाता : पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस अपने 5-7 फीसदी कर्मचारियों की छंटनी करने जा रही है. कंपनी के कारोबार में काफी कमी आई है. खर्च घटाने के लिए उसने यह रास्‍ता अपनाया है. इस तरह पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस भी उन कंपनियों में शामिल हो गई है जिन्‍होंने पिछले छह महीनों में अपने कर्मचारियों की संख्‍या घटाई है.

कर्मचारियों की छंटनी की खबर ऐसे समय आई जब एक महीने पहले ही हरदयाल प्रसाद ने कंपनी में चीफ एग्‍जीक्‍यूटिव का पद संभाला है. उन्‍होंने अंतरिम प्रमुख नीरज व्‍यास की जगह ली है.

इसे भी पढ़ें : पुराने कर्मचारियों को नौकरी पर बुला रही हैं आईटी कंपनियां

मामले से जुड़े लोगों ने बताया कि कंपनी ने 80-100 लोगों को इस्‍तीफा देने के लिए कहा है. कर्ज देने वाली इस कंपनी का मार्केटकैप 4,863 करोड़ रुपये का है. इस पर 68 हजार करोड़ रुपये का लोन बकाया है. छंटनी से पहले देश के विभिन्न राज्‍यों में इसके 1500 कर्मचारी थे.

इस मामले पर ईटी के सवाल के जवाब में कंपनी ने कहा, ''हम अपने संसाधनों को दोबारा एलोकेट करने की प्रक्रिया में हैं. इसका मकसद पीएनबी हाउसिंग को सतत ग्रोथ की राह पर ले जाना है. इन कोशिशों में बहुत मुश्किल फैसले लेने पड़ रहे हैं. कार्यबल में सीमित संख्‍या में बदलाव भी इसका हिस्‍सा है. हालांकि, बताई गई संख्‍या सही नहीं है. यह बढ़ाचढ़ाकर दिखाई गई है.''

इसे भी पढ़ें : दो साल में इन 8 क्षेत्रों में होंगे नौकरी के खूब मौके

क्‍या कंपनी ने अपने सीनियर मैनेजमेंट को सालाना बोनस और इंक्रीमेंट दिया है, इस सवाल के जवाब में पीएनबी हाउसिंग ने कहा, ''कोरोना की महामारी से उपजी असाधारण स्थितियों के चलते कंपनी पहली तिमाही में ऐसा कर पाने में असमर्थ थी. अभी इसकी समीक्षा की जा रही है. समय के साथ इसके बारे में एलान किया जाएगा.''

पूंजी की कमी के चलते कंपनी का कारोबार पिछले साल से ही घटना शुरू हो गया था. जून तिमाही में डिस्‍बर्समेंट (लोन वितरण) 91 फीसदी घटकर 694 करोड़ रुपये रह गया. पिछले साल की इसी अवधि में यह 7,634 करोड़ रुपये था.

32.7 फीसदी होल्डिंग के साथ पीएनबी इस कंपनी की प्रमोटर है. उसने बीते महीने मॉर्गेज लोन देने वाली कंपनी में 600 करोड़ रुपये की पूंजी डालने का एलान किया था. कंपनी तरजीही आवंटन या शेयरों के राइट्स इश्‍यू के जरिये भी 1800 करोड़ रुपये की पूंजी जुटाने के बारे में विचार कर रही है.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

पीएनबी हाउसिंग फाइनेंसकर्मचारियों की छंटनीकोरोना की महामारीपीएनबीछंटनी

ETPrime stories of the day

After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?
Recent hit

After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?

9 mins read
Can Hero Electric keep going as Ather, Ola rev up e-scooters? One puzzle Naveen Munjal is solving.
Electric vehicles

Can Hero Electric keep going as Ather, Ola rev up e-scooters? One puzzle Naveen Munjal is solving.

11 mins read
Survival of the richest: why investment in conservation is horribly skewed
Environment

Survival of the richest: why investment in conservation is horribly skewed

6 mins read

महामारी से पहले की तुलना में मजदूरी 450-500 रुपये से बढ़कर 550-600 रुपये प्रति दिन हो गई है. वहीं, मजदूरों की उपलब्‍धता 70-75 फीसदी घटी है.दिग्गज आईटी कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज ने कोरोना वायरस महामारी के दौरान ग्रोथ देने के चलते साल 2021-22 के लिए कर्मचारियों की सैरली बढ़ाई है.ये 5 टिप्‍स करियर में आगे बढ़ने में करेंगी मदद

भारतीय शहरों में करीब 15 फीसदी कंपनियों की फरवरी से अप्रैल 2021 के बीच फ्रेशर्स को भर्ती करने की योजना है. लर्निंग सॉल्‍यूशंस फर्म टीम लीज एडटेक के सर्वे से इसका पता चलता है. टीमलीज एडटेक के सीईओ शांतनु रूज ने कहा कि कोरोना की महामारी के बावजूद कंपनियों के एजेंडे में फ्रेशर्स की हायरिंग है.आईबीए ने बैंक कर्मचारी और अधिकारी संघों के साथ 11वीं द्विपक्षीय वेतनवृद्धि वार्ता नई सहमति के साथ सम्पन्न होने की बुधवार को घोषणा की.सिर्फ 10% कर्मचारी ऑफिस लौटे : रिपोर्ट

अगर आप फुलटाइम घर से काम कर रहे हैं और आपकी कंपनी टेलीफोन, इंटरनेट, प्रिंटिंग और स्‍टेशनरी जैसे कुछ खर्चों को रीइंबर्स कर रही है तो आपको इन खर्चों पर टैक्‍स देने की जरूरत नहीं है.डिजिटल इकनॉमी में नए टैलेंट की जरूरत होगी. आइए, यहां टॉप रिक्रूटमेंट फर्मों से उन स्किल्‍स के बारे में जानते हैं जो सबसे ज्‍यादा डिमांड में हैं.फ्रेशर्स के लिए मौका, कंपनियां बड़े पैमाने पर कर रही हैं भर्ती

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
188bet यूरो

कर्मचारियों की छंटनी की खबर ऐसे समय आई जब एक महीने पहले ही हरदयाल प्रसाद ने कंपनी में चीफ एग्‍जीक्‍यूटिव का पद संभाला है. उन्‍होंने अंतरिम प्रमुख नीरज व्‍यास की जगह ली है.

पोकर युद्ध ब्रिटेन

रोजगार संबंधी सेवाएं देने वाली वेबसाइट नौकरी डॉट कॉम के 'हायरिंग आउटलुक सर्वे' के अनुसार, नियोक्ता नए साल को लेकर आशावान लग रहे हैं.

बैकरेट कंप्यूटर गेम

सितंबर में समाप्त तिमाही में कंपनी के कर्मचारियों की संख्या 2,40,208 थी. कंपनी अपने जूनियर कर्मचारियों को तीसरी तिमाही में एकबारगी विशेष प्रोत्साहन देगी.

त्रिभुज क्रिकेट लाइव

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन वीके यादव ने बताया कि कोविड-19 महामारी के कारण अब तक परीक्षा आयोजित नहीं कराई जा सकी थी.

असली पैसे का खेल ertugrul

कई ग्राहक मोरेटोरियम और उससे पड़ने वाले असर को नहीं समझते हैं. इसे देखते हुए कलेक्‍शन में बाधा आई है.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी