• micro-blog
  • WechatWechat QR code

गुआनडोंग प्रांतिय लोक्स सरकार का होम पृष्ठ  >  News trends  >  Guangdong highlights

क्रिकेट विश्व कप 2023

स्रोत: Nanfang Daily Online Edition     time: 2021-10-25 11:35:04

स्लॉट मशीन यूट्यूब क्रिकेट विश्व कप 2023 betway जॉब,fun88 वेब,lovebet 567,lovebet सुरक्षित है या नहीं,lovebet टोल फ्री नंबर भारत,365 सट्टेबाजी,बैकारेट दिवालिया,बैकरेट पोकर डीलर,बेस्ट ऑफ़ फाइव mrcp भाग 1,सी शतरंज इंजन,कैसीनो और अर्जेंटीना,शतरंज एल आकार,क्रिकेट च 4,क्रिकेटर्स ग्रीन टॉर्के,यूरोपीय कप फुटबॉल सट्टेबाजी की सिफारिशें,फुटबॉल कैश नेट,जुआ संभ्रांत फोरम,खुश किसान उत्तर शाखा mn,पोकर लीग में,जैकपॉट सिटी बेस्ट गेम्स,नवीनतम बैकरेट क्रैक,लाइव गेम रूले मलेशिया,लॉटरी सुबह परिणाम,एम स्पोर्ट्स लोगो,ऑनलाइन कैसीनो ड्यूशलैंड कानूनी,दोस्तों के साथ ऑनलाइन गेम मुफ्त,ऑनलाइन स्लॉट पेपैल यूके,पोकर 5 कार्ड ड्रा नियम,पोकर ज़साडी ग्रे,रूले रियल मनी ऐप डाउनलोड,रमी नायिका का नाम,एसए लवबेट,स्लॉट सीमित,स्पोर्ट्स रनिंग किट,तीन पत्ती महल,लवबेट ऐप,वर्चुअल क्रिकेट का मतलब,क्या लाइव कैसीनो धोखा देंगे?,rummy का अर्थ,करुणा भारत का गाना,खुल जा सिमसिम,जैकपॉट लाटरी इन इंडिया,पोकर गेम ऑनलाइन,बारात ढोल,रीना जी का भजन,स्टेटस भोजपुरी, ,कोयला आपूर्ति में बिजली क्षेत्र को प्राथमिकता से हिंदुस्तान जिंक कुछ हद तक प्रभावित: सीईओ

  


  

कोयला आपूर्ति में बिजली क्षेत्र को प्राथमिकता से हिंदुस्तान जिंक कुछ हद तक प्रभावित: सीईओ

  कोयला आपूर्ति में बिजली क्षेत्र को प्राथमिकता से हिंदुस्तान जिंक कुछ हद तक प्रभावित: सीईओ

नयी दिल्ली, 24 अक्टूबर (भाषा) घरेलू कोयले की आपूर्ति में बिजली क्षेत्र को प्राथमिकता देने से हिंदुस्तान जिंक पर 'कुछ हद तक' असर पड़ा है। वेदांता समूह के एक शीर्ष अधिकारी यह बात कही।

उन्होंने कहा, हालांकि कंपनी ने मार्च तक के लिए कोयले के आयात का अनुबंध कर फिलहाल इस समस्या का हल निकाल लिया है।

घरेलू कोयला उत्पादन में 80 प्रतिशत का हिस्सा रखने वाली कोल इंडिया लि. ताप बिजली संयंत्रों में कोयले की कमी को देखते हुए उन्हें अस्थायी रूप से आपूर्ति में प्राथमिकता दे रही है।

हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) अरुण मिश्रा ने पीटीआई-भाषा से बातचीत में कहा कि कंपनी की वार्षिक कोयले की खपत लगभग 20 लाख टन है और वह अपने संयंत्रों में आयातित और घरेलू दोनों ईंधन का उपयोग करती है।

बिजली क्षेत्र को घरेलू कोयले की आपूर्ति में प्राथमिकता देने से कंपनी को पड़ने वाले असर को लेकर उन्होंने कहा, ‘‘हां, कुछ हद तक हम पर इसका असर पड़ा है। यह अस्थायी हो सकता है। अब आयातित कोयले की अधिक खपत होगी तथा अगले दो या तीन महीनों में घरेलू कोयला पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध होना चाहिए।’’

मिश्रा ने कहा, ‘‘जहां तक उच्च कीमतों का सवाल है, तो यह पहली बार है जब कीमतों का लागत पर प्रभाव पड़ा है।’’

उन्होंने कहा कि संयंत्रों में धातुओं के उत्पादन के लिए बिजली बहुत महत्वपूर्ण है और कोयला कंपनी के बिजली संयंत्र के लिए प्रमुख उत्पादन सामग्री है।

(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)
(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)

ETPrime stories of the day

Lilly withered in India’s blooming diabetes market. Key deficiency: an India-specific sales pitch.
Pharma

Lilly withered in India’s blooming diabetes market. Key deficiency: an India-specific sales pitch.

9 mins read
Havildar Tom Cruise? A case diary of Indian cops’ craze for artificial intelligence in policing
Artificial intelligence

Havildar Tom Cruise? A case diary of Indian cops’ craze for artificial intelligence in policing

11 mins read
How Srei lenders hid potential related-party transactions by routing them through public trusts
Under the lens

How Srei lenders hid potential related-party transactions by routing them through public trusts

10 mins read

एनसीएलएटी का एनसीएलटी को वीडियोकॉन के दो पूर्व अधिकारियों को सुनवाई का मौका देने का निर्देश

नयी दिल्ली, 24 अक्टूबर (भाषा) कंपनियों के तिमाही परिणाम इस सप्ताह शेयर बाजारों की दिशा तय करेंगे। इसके अलावा डेरिवेटिव्स निपटान की वजह से भी बाजार में उतार-चढ़ाव रह सकता है। विश्लेषकों ने यह राय जताई है। उन्होंने कहा कि इसके अलावा वैश्विक बाजारों के रुख से भी स्थानीय बाजार दिशा लेंगे। स्वस्तिका इनवेस्टमार्ट के शोध प्रमुख संतोष मीणा ने कहा, ‘‘यदि हम अगले सप्ताह के लिए संकेतकों की बात करें, तो कंपनियों के तिमाही नतीजे और अक्टूबर माह के वायदा एवं विकल्प निपटान से बाजार में उतार-चढ़ाव रह सकता है।’’ मीणा ने कहा कि सोमवार को बाजार रिलायंसनयी दिल्ली, 24 अक्टूबर (भाषा) बुनियादी ढांचा क्षेत्र की 150 करोड़ रुपये या इससे अधिक के खर्च वाली 438 परियोजनाओं की लागत में तय अनुमान से 4.3 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा की बढ़ोतरी हुई है। एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है। देरी और अन्य कारणों की वजह से इन परियोजनाओं की लागत बढ़ी है। सांख्यिकी और कार्यक्रम क्रियान्वयन मंत्रालय 150 करोड़ रुपये या इससे अधिक लागत वाली बुनियादी ढांचा क्षेत्र की परियोजनाओं की निगरानी करता है। मंत्रालय की ताजा सितंबर, 2021 की रिपोर्ट में कहा गया है कि इस तरह की 1,670 परियोजनाओं मेंरिलायंस का हरित ऊर्जा कारोबार ले रहा है आकार, कर-पूर्व लाभ में 10% योगदान देगा: रिपोर्ट

नयी दिल्ली, 24 अक्टूबर (भाषा) विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक (एफपीआई) अक्टूबर में अबतक भारतीय बाजारों में शुद्ध बिकवाल बने हुए हैं। उन्होंने अक्टूबर में भारतीय बाजारों से 3,825 करोड़ रुपये की निकासी की है। इससे पिछले दो माह में एफपीआई ने ऋण या बांड बाजार में जबर्दस्त निवेश किया था। उन्होंने सितंबर में बांड बाजार में 13,363 करोड़ रुपये और अगस्त में 14,376.2 करोड़ रुपये डाले थे। डिपॉजिटरी के आंकड़ों के अनुसार, अक्टूबर में एफपीआई ने अभी तक बांड बाजार से 1,494 करोड़ रुपये निकाले हैं। इसी तरह उन्होंने शेयरों से 2,331 करोड़ रुपये की निकासी की है। इसनयी दिल्ली, 24 अक्टूबर (भाषा) घरेलू कोयले की आपूर्ति में बिजली क्षेत्र को प्राथमिकता देने से हिंदुस्तान जिंक पर 'कुछ हद तक' असर पड़ा है। वेदांता समूह के एक शीर्ष अधिकारी यह बात कही। उन्होंने कहा, हालांकि कंपनी ने मार्च तक के लिए कोयले के आयात का अनुबंध कर फिलहाल इस समस्या का हल निकाल लिया है। घरेलू कोयला उत्पादन में 80 प्रतिशत का हिस्सा रखने वाली कोल इंडिया लि. ताप बिजली संयंत्रों में कोयले की कमी को देखते हुए उन्हें अस्थायी रूप से आपूर्ति में प्राथमिकता दे रही है। हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) अरुणवैलेंटाइन डे : आपके साथी का दिल जीत लेंगे ये उपहार

रीइंश्‍योरेंस कंपनियों के रेट जीवन प्रत्‍याशा यानी लाइफ एक्‍सपेक्‍टेंसी पर आधारित होते हैं. यह एक लंबी अवधि का ट्रेंड होता है.इस्लामाबाद, 24 अक्टूबर (भाषा) चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा (सीपीईसी) प्राधिकरण के प्रमुख ने अमेरिका पर अरबों डॉलर की इस परियोजना को नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाया है। परियोजना को पाकिस्तान की आर्थिक जीवनरेखा करार दिया गया है।महत्वाकांक्षी सीपीईसी परियोजना 2015 में चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग की पाकिस्तान यात्रा के दौरान शुरू की गयी थी।इसका उद्देश्य पश्चिमी चीन को सड़कों, रेलवे, और बुनियादी ढांचे एवं विकास की अन्य परियोजनाओं के नेटवर्क के माध्यम से दक्षिण-पश्चिम पाकिस्तान के ग्वादर बंदरगाह से जोड़ना है।सीपीईसी मामलों पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के विशेष सहायक खालिद मंसूर ने शनिवार को कराची में सीपीईसी शिखर सम्मेलन कोकार खरीदने जा रहे हैं? 7 लाख रुपये तक के बजट में ये हैं शानदार ऑप्‍शन



Relevant reports:क्रिकेट खेल डाउनलोड
Relevant reports:बरसात एल्बम के गाने
Relevant reports:पोकर किट
Relevant reports:उत्पत्ति कैसीनो ऐप डाउनलोड
Relevant reports:lovebet नो डिपॉजिट
Relevant reports:बरसात यार
Relevant reports:टेक्सास होल्डम रेगलर
Relevant reports:स्पोर्ट्स कोटा जॉब्स 2021
Relevant reports:10cric राजस्व
Relevant reports:तीन पत्ती मनी
Relevant reports:सबसे अच्छा बैकारेट फोरम कौन सा है
Relevant reports:पोर्टेरिया ए 0 लवबेट
Relevant reports:वीडियो पोकर ऐप
Relevant reports:घ खेल कार्यक्रम
Relevant reports:बैकारेट एनजी
Relevant reports:क्रिकेट ओलंपिक
Relevant reports:शतरंज २००६
Relevant reports:फुटबॉल खाता खोलने की वेबसाइट
Relevant reports:मछली पकड़ने की भीड़ नदी
Relevant reports:क्या बैकरेट एंटरटेनमेंट नकली है?
Relevant reports:क्रिकेट शब्दावली
Relevant reports: पोकर चिप्स
Relevant reports:फुटबॉल इन हिंदी
Relevant reports:स्पोर्ट्स एच लोगो
Relevant reports:betway अंडर 0.5 मतलब
Relevant reports:पोकर 7 कार्ड स्टड
Relevant reports:लॉटरी 03/04/21

【font:large in Small
प्रतिलिपि अधिकार: दक्षिण न्यूज नेटवर्कगुआनडोंग आईसीपी तैयार 05070829 website identification code 4400000131
Sponsor: नान्फांग न्यूज़र नेटवर्क co sponsor: Guangdong Provincial Economic and Information Technology Commission contractor: Nanfang news network
1024 is recommended × Browser with 768 resolution above IE7.0